Wednesday, December 3, 2014

कुछ यादें,
जब साथ रहती हैं
तो दे जाती हैं ज़िंदगी को
दर्द,
चुभन,
इक अनचाहा-सा ख़याल ...
 

और कुछ यादें,
जब साथ रहती हैं
तो भर देती हैं ज़िंदगी में
सलीक़ा,
हिम्मत,
इक मनचाहा-सा अहसास ...
 

ख़ैर ....!
ज़िंदा बना रहता है इन्सान
यादों के साथ बँधे रहने से ..... !!!

2 comments:

Digamber Naswa said...

यादें बहुत काम की होती हैं ... जैसी भी हों मज़ा देती हैं ...

Vandana Ramasingh said...

ज़िंदा बना रहता है इन्सान
यादों के साथ बँधे रहने से ..... !!!

सच है